वनप्लस का भारतीय टीवी बाजार से पत्ता साफ?

OnePlus expands mainline network in India, to operate with 50K retailer  stores in 2024, ET Telecom

वनप्लस का भारतीय टीवी बाजार से पत्ता साफ? वेबसाइट से हटाए गए टीवी और मॉनिटर सेक्शन ने खड़े किए सवाल

भारतीय स्मार्टफोन बाजार में धूम मचाने वाली कंपनी वनप्लस हाल ही में एक अलग वजह से सुर्खियों में है. जी हां, कंपनी ने अपनी भारतीय वेबसाइट से टेलीविजन और डिस्प्ले से जुड़े सेक्शन को पूरी तरह से हटा दिया है. इस कदम को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं, जिनमें सबसे प्रमुख है – क्या वनप्लस भारतीय टीवी बाजार से बाहर निकलने की तैयारी कर रही है?

चुपके से लिया गया फैसला, बढ़ीं अटकलें

गौर करने वाली बात ये है कि वनप्लस ने इस बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है. कंपनी ने अचानक और चुपचाप अपनी वेबसाइट से टीवी और मॉनिटर सेक्शन को हटा दिया. साथ ही, पहले से लिस्टेड मॉडल्स को भी अब वेबसाइट पर नहीं ढूंढा जा सकता है. यही नहीं, टीवी और डिस्प्ले के लिए बनाए गए माइक्रोसाइट तक पहुंचने की कोशिश करने पर भी यूजर्स को 404 एरर पेज का सामना करना पड़ रहा है.

इन सब चीजों को जोड़कर देखा जाए तो ये स्पष्ट संकेत मिलते हैं कि वनप्लस ने भारत में टीवी और मॉनिटर के प्रोडक्शन और बिक्री पर रोक लगा दी है. कुछ महीनों पहले आई खबरों को भी यही बल मिलता है, जिनमें दावा किया गया था कि वनप्लस और रियलमी, दोनों ही कंपनियां भारतीय टीवी बाजार से बाहर निकलने पर विचार कर रही हैं.

शानदार शुरुआत, फिर अचानक सी खामोशी

2019 में वनप्लस टीवी Q1 सीरीज के लॉन्च के साथ भारत के टीवी बाजार में कदम रखने वाली वनप्लस को अच्छी शुरुआत मिली थी. कंपनी ने किफायती और मिड-रेंज सेगमेंट में कई टीवी मॉडल पेश किए, जिन्हें ग्राहकों का अच्छा रिस्पॉन्स भी मिला. लेकिन पिछले एक साल से वनप्लस की ओर से भारतीय टीवी बाजार में कोई खास हलचल नहीं देखने को मिली है. कंपनी ने न तो कोई नया टीवी मॉडल लॉन्च किया और न ही मार्केटिंग के क्षेत्र में कोई खास पहल की. ऐसे में ये सवाल उठना लाजमी है कि आखिर वनप्लस ने भारतीय टीवी बाजार में अचानक से पीछे हटने का फैसला क्यों लिया?

संभावित कारण: तगड़ी प्रतिस्पर्धा और मार्केट का दबाव

भारतीय टीवी बाजार में प्रतिस्पर्धा काफी तेज है. यहां पहले से ही कई दिग्गज कंपनियां जैसे कि सैमसंग, एलजी, सोनी और भारतीय ब्रांड्स जैसे कि माइक्रोमैक्स और इनफिनिक्स मजबूत पकड़ बनाए हुए हैं. साथ ही, चीनी कंपनियों का दबाव भी लगातार बढ़ रहा है. ऐसे में हो सकता है कि वनप्लस को भारतीय बाजार में टिक पाना मुश्किल हो रहा हो. इसके अलावा, टीवी मार्केट में मुनाफा कम होता है और मार्जिन भी काफी कम रहता है. ऐसे में हो सकता है कि वनप्लस ने महसूस किया हो कि टीवी सेगमेंट उनके लिए फायदेमंद नहीं है.

क्या है वनप्लस का अगला कदम? आधिकारिक बयान का इंतजार

फिलहाल, ये कहना मुश्किल है कि वनप्लस का भारतीय टीवी बाजार से पूरी तरह से पीछे हटना है या फिर कंपनी किसी नई रणनीति के तहत कुछ समय के लिए इस सेगमेंट को रोक रही है. उम्मीद की जाती है कि वनप्लस जल्द ही इस मामले पर कोई आधिकारिक ब